होम  -  विश्व की जनसंख्या
पर्यवलोकन
जे.एस.के.  के कार्य
जे.एस.के.  किस प्रकार भिन्न है?
जे.एस.के.  की निधि
सदस्यता का पंजीकरण
दान और अंशदान
जिला स्तर पर स्वास्थ्य संबंधी आंकड़े
  

विश्व की जनसंख्या

भारत की जनसंख्या

जनसंख्या का विषय
 महत्वपूर्ण क्यों है ?
सरलीकृत जनसंख्या की अवधारणा
सरकार के प्रचलित कार्यक्रम
जनसंख्या से संबंधित संपर्क

यौन और जनन स्वास्थ्य पर 
प्राय पूछे जाने वाले प्रश्नः

  सीधे उत्तर


विश्व की जनसंख्या के कुछ तथ्य

संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष के अनुसार वर्ष 2003 में विश्व की जनसंख्या 6.30 बिलियन थी। वर्ष 2050 में यह बढ़कर 8.91 बिलियन हो जाएगी। विश्व में प्रत्येक पांच व्यक्तियों में से चार व्यक्ति विकास शील देश में रहते हैं। इस समय विकास की कुल जनसंख्या का 81 प्रतिशत भाग विकास शील विश्व में रहता है जो 2050 तक बढ़कर 88 प्रतिशत हो जाएगा।

विकसित विश्व उस स्तर पर पहुंच गया है जहां जन्म लेने वालों और मरने वालों की संख्या समान है। वहां 0.2 प्रतिशत की जनसंख्या वृद्धि दर नगण्य है और संख्या के अनुसार जनसंख्या स्थिर रहती है, दूसरी तरफ विकासशील देशों में जनसंख्या वृद्धि दर लगभग 1.5 प्रतिवर्ष है।

वर्ष 2006 में विश्व की जनसंख्या
(स्रोतः 2006 का विश्व जनसंख्या डाटा शीट, जनसंख्या सन्दर्भ ब्यूरो)
प्रक्षेपित विश्व जनसंख्या 2050 में
(स्रोतः 2006 का विश्व जनसंख्या डाटा शीट, जनसंख्या सन्दर्भ ब्यूरो)
वर्ष 2006 और 2050 की विश्व जनसंख्या की तुलना
(स्रोतः 2006 का विश्व जनसंख्या डाटा शीट, जनसंख्या सन्दर्भ ब्यूरो)

 
विश्व जनसंख्या वृद्धि (बिलियन में)

विश्व जनसंख्या 2013 में 7 बिलियन, 2028 में 8 बिलियन और 2054 में 9 बिलियन से अधिक होने का अनुमान लगाया गया।

  1. विश्व की जनसंख्य 6 बिलियन बढ़ने में मात्र 12 वर्ष का समय लगा। जनसंख्या में एक बिलियन की वृद्धि होने के लिए विश्व के इतिहास में सबसे कम अवधि है।
  2. विश्व की जनसंख्या 1804 तक एक बिलियन नहीं हुई थी।
  3. वर्ष 1927 में 2 बिलियन जनसंख्या होने में 123 वर्ष का समय लगा, 1960 में 3 बिलियन होने में 33 वर्ष, 1974 में 4 बिलियन होने में 14 वर्ष और 1987 में 5 बिलियन होने में 13 वर्ष का समय लगा।
  4. विश्व जनसंख्या 2200 के बाद 10 बिलियन से अधिक पर स्थिर हो जाएगी।
विश्व की जनसंख्या वृद्धि (अरबों)
स्रोत संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या प्रभाग वर्ष 1999 में विश्व की जनसंख्या लगभग 6बिलियन थी।

विकसित देशों में न्यूनाधिक जनसंख्या वृद्धि
  1. विश्व जनसंख्या वृद्धि मुख्यतः कम विकसित क्षेत्रों की देन है जिनमें एशिया. अफ्रीका और लेटिन अमेरिका के अधिकांश देश सम्मिलित हैं और अधिकांशतः यह वृद्धि इन देशों के बाहरी क्षेत्रों में हो रही है।
  2. वर्ष 2050 तक विश्व की जनसंख्या की लगभग 90 प्रतिशत जनसंख्या कम विकसित देशों में रह रही होगी।
  3. आज विश्व की वार्षिक वृद्धि 77 अरब की है जिसमें से आधी जनसंख्या भारत, चीन, पाकिस्तान, नाइजेरिया, बांग्लादेश और इण्डोनेशिया जैसे छः देशों में ही होती है। विश्व की कुल जनसंख्या वृद्धि का लगभग पांचवा भाग अकेले भारत में बढ़ जाता है।
न्यूनाधिक विकसित देशों में जनसंख्या वृद्धि
(स्रोतः संयुक्त राष्ट्र विश्व जनसंख्या का भविष्यः संशोधन 2004-2005)

 

बच्चा जनने की आयु (15-49) वाली महिलाएं विश्व दृश्य

  1. बच्चा जनने की आयु वाली महिलाओं की संख्या वर्ष 1950 और 1990 के मध्य दो गुनी से अधिक हो गईः अर्थात 620 अरब से 1.3 बिलियन से अधिक।
  2. संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, इस शताब्दी के मध्य तक उनकी संख्या 2 बिलियन से अधिक होने की संभावना है।
  3. बच्चा जनने की आयु वाली महिलाओं की जनसंख्या में वृद्धि हुई और उनके पुरुष साथी भावी विश्व जनसंख्या वृद्धि में योगदान देंगे यद्यप बच्चा जनने की आयु वाली महिलाओं का स्तर कम होता जा रहा है।
बच्चा जनने की आयु वाली महिलाएं (विश्व दृश्य)
(स्रोतः संयुक्त राष्ट्र विश्व जनसंख्या का भविष्य. संशोधन 2004-2005)
 
New Page 2

  प्रतिलिपि अधिकार 2007,  जनसंख्या स्थिरता कोष , सर्वाधिकार सुरक्षित